कामरेड गंधर्व सेन को लाल सलाम!

प्यारे कामरेड सुरिंदर

Gandharv Sen Kochhar

14 मार्च, 2018 को कामरेड गंधर्व सेन के देहांत की सूचना पाकर, हमें बहुत दुःख हुआ। हमारी पूरी पार्टी के लिए और व्यक्तिगत तौर पर मेरे लिए, कामरेड गंधर्व सेन हिन्दोस्तान ग़दर पार्टी की क्रांतिकारी भावनाओं की मिसाल थे। कामरेड गंधर्व सेन जीवनभर, सभी प्रकार के शोषण और दमन से हिन्दोस्तान को मुक्त कराने के उच्च लक्ष्य से क्षण भर के लिए भी नहीं भटके।

उन्होंने हिन्दोस्तान ग़दर पार्टी की क्रांतिकारी परम्पराओं को जिंदा रखने के लिए संघर्ष किया और हिन्दोस्तान के कम्युनिस्ट आंदोलन में अहम योगदान दिया। वे देश भगत यादगार कमेटी के एक प्रमुख आयोजक थे। 

कामरेड गंधर्व सेन अपनी आखिरी सांस तक एक सच्चे ग़दरी, एक क्रांतिकारी योद्धा रहे। उनकी 99वीं जन्मतिथि के अवसर पर, देश भगत यादगार कमेटी के साथियों द्वारा नूरमहल में आयोजित एक जनसभा में, कामरेड गंधर्व सेन ने मार्क्सवाद-लेनिनवाद पर अपने अडिग विश्वास को दोहराया था। उन्होंने इस बात पर भी अपना पूरा भरोसा प्रकट किया था कि हिन्दोस्तान के लोग अवश्य ही ग़दरियों का रास्ता अपनाएंगे और अपने देश को आज़ाद करायेंगे।

कामरेड गंधर्व सेन के दिल में हमारी पार्टी के लिए बहुत प्यार था। हमारी पार्टी के लिए उनके प्रोत्साहनकारी शब्दों को मैं बड़े आदर के साथ, हमेशा याद रखूंगा।

कामरेड गंधर्व सेन का देहांत हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी के लिये और पूरे कम्युनिस्ट आन्दोलन के लिये, एक भारी क्षति है। इस दुःख की घड़ी में, हमारी पार्टी की केन्द्रीय समिति की ओर से, मैं आपको, आपके परिवार के सभी सदस्यों को तथा देश भगत यादगार कमेटी के सभी कामरेडों को दिल से संवेदना प्रकट करता हूँ।

लाल सिंह

महासचिव, हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी

 

Tag:   

Share Everywhere

Gandharva    Apr 1-15 2018    Voice of the Party    Rights     2018   

पार्टी के दस्तावेज

thumbnail

इस दस्तावेज़ “किस प्रकार की पार्टी” को, कामरेड लाल सिंह
ने हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी की केन्द्रीय कमेटी की
ओर से 29-30 दिसम्बर, 1993 में हुई दूसरी राष्ट्रीय सलाहकार
गोष्ठी में पेश किया था।


पी.डी.एफ. डाउनलोड करनें के लिये चित्र पर क्लिक करें

Click to Download PDFइस पुस्तिका के प्रथम भाग में नोटबंदी के असली इरादों को समझाने तथा उनका पर्दाफाश करने के लिये, तथ्यों और गतिविधियों का विश्लेषण किया गया है। दूसरे भाग में सरकार के दावों - कि नोटबंदी से अमीर-गरीब की असमानता, भ्रष्टाचार और आतंकवाद खत्म होगा - का आलोचनात्मक मूल्यांकन किया गया है। तीसरे भाग में यह बताया गया है कि कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी के अनुसार, इन समस्याओं का असली समाधान क्या है तथा उस समाधान को हासिल करने के लिये फौरी कार्यक्रम क्या होना चाहिये।

(Click thumbnail to download PDF)

यह चुनाव एक फरेब है!हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी के महासचिव, कामरेड लाल सिंह का

मजदूर एकता लहर के संपादक, कामरेड चन्द्रभान के साथ साक्षात्कार

(PDF दस्तावेज को डाउनलोड करने के लिए कवर चित्र पर क्लिक करें)

यह बयान, ”बड़े पूँजीपतियों के लिये अच्छे दिन का मतलब मजदूर-किसान के लिये दुख-दर्द के दिन“, हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी की केन्द्रीय समिति की 31 मई, 2014 को सम्पन्न हुई परिपूर्ण सभा में हुए विचार-विमर्श और मूल्यांकन पर आधारित है।

(PDF दस्तावेज को डाउनलोड करने के लिए कवर चित्र पर क्लिक करें)

हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी के महासचिव, कामरेड लाल सिंह का,

मजदूर एकता लहर के संपादक, कामरेड चन्द्रभान के साथ साक्षात्कार

(PDF दस्तावेज को डाउनलोड करने के लिए कवर चित्र पर क्लिक करें)

हिन्दोस्तानी गणराज्य का नवनिर्माण करने और अर्थव्यवस्था को नई दिशा दिलाने के कार्यक्रम के इर्द-गिर्द एकजुट हों ताकि सभी को सुख और सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके!

(PDF दस्तावेज को डाउनलोड करने के लिए कवर चित्र पर क्लिक करें)